Press "Enter" to skip to content

अभिनेता ऋषि कपूर का निधन

  • कैंसर से पीडित थे ऋषि कपूर
  • मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में ली अंतिम सांस

शुभम् बैरागी।।

अभी एक गम ख़त्म हुआ न था और आंखे फ़िर से नम हो गईं। अभिनेता ऋषि कपूर 67 वर्ष की उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह गए।
अपने अभिनय से करोड़ो लोगों के दिल में रहने वाले ऋषि कपूर कैंसर स जूझ रहे थे। कल अचानक तबियत बिगड़ने पर उन्हें मुम्बई के एचएन रिलायन्स फाउंडेशन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

ऋषि कपूर ने बॉबी फ़िल्म के जरिए एक्टिंग की दुनिया में कमद रखा था। इस फ़िल्म को राज कपूर ने निर्देशित किया था। इसके बाद ऋषिअपने फ़िल्मी करियर में कई शानदार फ़िल्में कीं। गौरतलब है कि ऋषि कपूर के पिता और दादा पृथ्वीराज कपूर भी कला की इस दुनिया में सक्रिय रहे। ऋषि के बेटे रणबीर कपूर इस वक्त बॉलीवुड में सक्रिय हैं।

अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर लिखा-

” वो गया. ऋषि कपूर गए. अभी उनका निधन हुआ. मैं टूट गया हूं. कपूर फैमिली से रणधीर कपूर ने ऋषि के निधन की खबर को कंफर्म किया है”

ऋषि कपूर अपनी फिल्मों के साथ-साथ अपने विचारों के लिए भी खूब जाने जाते हैं। वह अकसर सोशल मीडिया पर समसामयिक मुद्दों पर अपने विचार साझा करते हैं। लेकिन बीते 2 अप्रैल के बाद से ही एक्टर ने एक भी ट्वीट या पोस्ट साझा नहीं की है।

एक ऐसा किरदार जिसने अपने अभिनय से समाज को जोड़ा हैं। हर पीढ़ी को ऋषि कपूर ने जोड़ा हैं चाहे वह अस्सी का दशक हो या फ़िर नब्बे का इस अभिनेता ने कई दिलों पर राज़ किया हैं।

एक दिन पहले 29 अप्रैल को इरफ़ान खान का दुनिया को छोड़ जाना और आज ऋषि कपूर का दुनिया को अलविदा कह जाना फ़िल्मी जगत के लिए बहुत बड़ा झटका हैं।

इरफ़ान की तरह ऋषि कपूर भी अपनी माँ के अंतिम दर्शन नहीं कर पाए थे। 1 अक्टूम्बर 2018 को ऋषि कपूर की माँ का निधन हुआ और ऋषि कपूर भी उस समय कैंसर के इलाज़ के लिए अमेरिका के अस्पताल में भर्ती थे।

इस विकट परिस्थिति में पत्नी नीतू कपूर और बेटे रणबीर कपूर ने एक पल के लिए भी ऋषि कपूर को अकेला नहीं छोड़ा इसके साथ ही रणबीर कपूर ने बेहद शानदार तरीके से अपने पिता और पूरे परिवार को संभाला. रणबीर कपूर वर्क कमिॉमेंट के चलते शूटिंग साइट पर रहते थे. वहीं एक दिन का भी समय मिलने पर वो पापा ऋषि कपूर के पास पहुंच जाते थे।

इरफान खान के निधन का जिक्र करते हुए रजा मुराद ने कहा कि कल हमें इरफान खान का बड़ा सदमा मिला था और आज ऋषि कपूर का निधन मैं क्या कहूं उसके बारे में। मेरा एक भाई चला गया हमेशा फोन करके मेरा हालचाल पूछते थे। मेरी खैरियत पूछते थे।
एक वाक्ये को याद करते और रोते हुए रजा मुराद ने कहा कि

“मुंबई दंगों के दौरान ऋषि ने मेरी वालिदा को फोन किया था और कहा था कि फिक्र न कीजिए मैं हूं आपके साथ मेरा हमदम था वो. मुझे लगता है कि मेरा एक सगा भाई चला गया वह कंप्लीट एक्टर थे। कल का सदमा अभी हम बर्दाश्त नहीं कर पाए थे और आज हमें यह खबर मिली. विडंबना की बात है कि आखिरी बार हम उन्हें देख भी नहीं सकते हैं उनके घर भी नहीं जा सकते हैं।”

More from मनोरंजनMore posts in मनोरंजन »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *